Categories
Uncategorized

Winter Funny Jokes in Hindi

Winter Funny Jokes in Hindi! Hi friends, I have collected some new Winter Funny Jokes in Hindi. Winter Funny Jokes in Hindi has been published. So check the latest Winter Funny Jokes in Hindi and share it with your lovely friends. Read it and enjoy it.so you can hare it with your all lovely friends. Its give smile and happiness to everyone face. Laughter is the way to make smile on everyone’ s face. Laughter is the best medicine for our health. Be happy and keep laughing…
Share kro jisse aap baat krte ho or jisse nhi krte…

Winter Funny Jokes In Hindi

फैन तो हमारे भी बहुत है,
पर सर्दी कीवजह से घरवाले चलाने नहीं देते..

ठंड इतनी है कि मच्छर भी आकर बोलता है
भाई काटूंगा नहीं, बस थोड़ी देर रजाई में रहने दो..!!

ठंड के मौसम में रोज रजाई कहती है
अंदर तो आ गए,बाहर कैसे जाओगे?

आने वाली कड़ाके की ठण्ड को देखते हुए केंद्र सरकार का बड़ा फैसला:
नहाये हुए व्यक्ति को छूने वाला भी नहाया हुआ माना जायेगा|

आखिर अब वो समय नजदीक आ रहा है जब हम सुबह उठ के जिंदगी का सबसे मुश्किल फैसला करते है की……
आज नहाना चाहिए या नहीं|
HAPPY WINTER

जो नहाने का साबुन 7 दिन चलता था
वह 25 दिनचलेगा ठंडी आ गई है ना

ठंड क्या है……
क्या है ठंड ?
हमारे आत्मबल से ठंड का बल ज्यादा है……. ये सोचना है ठंड !
ठंड से भयभीत होकर…… बिस्तर में सोते रहना है ठंड !
जिस नीच ने मेरे शरीर को सुस्त किया……..
उससे डरकर, हाथ पैर धोकर, बिना नहाये, बाथरूम से पीठ दिखाकर भागना है ठंड!
उस ठंड को मारने जा रहा हूँ मैं !…..
उसकी छाती चीरकर…… साबुन से नहाने जा रहा हूँ मैं….
जय~ माहिष्मती~ !!!

सर्दियों का एक स्पेशल मैजिक ट्रिक
सुब्हे 7 बजे उठे और एक लम्बी अंगड़ाई ले
और फिर 5 मिनिट के लिए फिरसे सो जाए,
जब आप 5 मिनिट होने के बाद उठेंगे तो
9 बज गए होंगे

गलती से पंखे का बटन क्या
दब गया…
….पूरा परिवार यूँ देखने लग
गया जैसे मैं कोई आतंकवादीहूँ ..

सर्दियों में इंसान नहाने से पहले “साइलेंट मोड” में होता है.
नहाते वक़्त “लाउड मोड” पर और..
नहाने के बाद “वाईब्रेट मोड” पर…

बड़ी बेवफा हो जाती है ग़ालिब ये घडी भी सर्दियों में,
5 मिनट और सोने की सोचो तो, 30 मिनट आगे बढ़ जाती है.

तेज़ ठण्ड होने के कारण लडकियों की नाक बहने से सेल्फी में आई भारी गिरावट…

दो बाते हमेशा याद रखना….

  1. मुश्किल से घबराना नहीं…
  2. सर्दियो में नहाना नहीं…

ना मुस्कुराने को जी चाहता हैं,
ना कुछ खाने-पीने को जी चाहता हैं,
अब ठंड बर्दास्त नही होती,
सब कुछ छोडकर रजाई में घुस जाने को जी चाहता हैं
इस बरसाती ठण्ड के मौसम में रजाई के अंदर रहना ही श्रेष्ठ कर्म है
और टमाटर की चटनी के साथ पकोड़े, चाय मिलना मोक्ष की प्राप्ति..

ज़िन्दगी में एक बात याद रखना,
आँसू पोछने वाले बहुत मिलेंगे,
पर नाक पोछने के लिए कोई नही आता,
सर्दी शुरू हो गयी हैं,
इसलिए अपना ध्यान रखना…

सर्दियों में आलू के पराठे हरी चटनी के साथ खाकर
धूप में मगरमच्छ की तरह पड़े रहने में जो सुख है..
उसे ही असली सुख कहा गया है!

दिल के धड़कन रूक सी गई,
सांसे मेरी थम सी गई,
पूछा हमने दिल के डॉक्टर से तो पता चला,
की सर्दी के कारण आपकी यादें दिल में जम सी गई.

खुदा करें कि तुमको ‘जुदाई’ ना मिलें,
कभी भी हमको ‘तन्हाई’ ना मिले,
जूझे ‘याद’ ना करो तो कुछ ऐसा हो,
कि मौसम हो सर्दी का और तुमको ‘रजाई’ न मिलें..

कल शाम मे एक औरत को ठिठुरता देख
मेरे दोस्त ने अपना कम्बल उसके बदन पर दे दिया।
उसने कम्बल फ़ेकते हुए कहा :-
गरीब नही हूँ शादी में जा रही हूँ।

ठंड का महीना है
कृपा करके छत पर पक्षियों के लिए थोड़ी सी Old Monk Rum रख दिया करे…
सिर्फ अपने बारे में ही न सोचें ठंड उनको भी लगती है। #Being Human

बीवी से परेशान होके पति
जैसे ही घर से बाहर निकला
बीवी – कहाँ जा रहे हो ?
पति – मरने जा रहा हूँ
सुसाइड कर लूँगा
बीवी – कहीं भी जाओ
लेकिन स्वेटर पहन के जाओ बाहर बहुत ठण्ड है
बीमार हो गए तो तुम्हारी खैर नहीं.

पत्नी पति रात को रजाई में सो रहे थे
अचानक कमरे में –
“किट किट” की आवाज आने लगी
पत्नी – उठो देखो चूहा कपडे कुतर रहा है
पति – कमीनी सारी रजाई
तूने खींच ली
सर्दी में मेरे दांत किटकिटा रहे हैं

ठण्ड के मौसम में पिंकी रात को
अपने बॉयफ्रेंड के रूम पे ही रुक गयी,
पिंकी – डार्लिंग अब शादी कर लेते हैं,
बिल्लू – घर वाले नहीं मानेंगे,
पिंकी – चलो भाग चलते हैं,
बिल्लू – इतनी ठण्ड में रजाई से पैर
ना निकालूँ तू भागने की बात करती है

संता को अच्छी सेहत बनाने का शौक चढ़ा,
संता – आज से मैं रोज सुबह घूमने जाया करूँगा
बीवी – ठीक है जी…..
सुबह 4 बजे उठकर बाहर घूमने गया,
बाहर बहुत ठण्ड और कोहरा था,
वापस आया और रजाई में घुस गया,
और बीवी से लिपट कर बोला –
जानू बाहर बहुत ठण्ड हो रही है,
बीवी(नींद में)- और वो पागल ठण्ड में बाहर
घूमने गया है 🙂 🙂
संता बेहोश

ठंड इतनी है कि मच्छर भी कान में आकर बोला,
भाई काटूँगा नहीं बस थोड़ी देर रजाई में रहने दो!

कल रात को इतनी धुंध थी,
आंगन में खड़े हो कर..
2 गोल्ड फ्लैक फूंक दी..
किसी को पता भी नहीं चला!!

भगवान का दिया हुआ सब कुछ है
तौलिया है, साबुन है, बाल्टी है, डब्बा है, पानी है
पर नहाने की हिम्मत नही है!

ऐ सर्दी इतना न इतरा
अगर हिम्मत है तो जून में आ..

पलट दूँगा सारी दुनिया मैं ए खुदा !!
बस रजाई में से निकलने की ताकत दे दे..

ठण्ड की ऋतु का 1 फायदा है…
क्या सोच रहे हो ???
बस 1 ही फायदा है कि…
गर्मी नहीं लगती…
शर्दी की ऋतु मुबारक हो…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *