Categories
Uncategorized

Jija Sali Shayari

Jija Sali Shayari! Hi friends, I have collected some new Jija Sali Shayari. Jija Sali Shayari has been published. So check the latest Jija Sali Shayari and share it with your lovely friends. Read it and enjoy it.so you can hare it with your all lovely friends. Its give smile and happiness to everyone face. Laughter is the way to make smile on everyone’ s face. Laughter is the best medicine for our health. Be happy and keep laughing…
Share kro jisse aap baat krte ho or jisse nhi krte…

हुस्न तो दिया ऐ खुदा तुमने,
हाय इस काली जुल्फों वाली को,
काश तुमने दिया होता दिल भी,
हमारी इस प्यारी सी साली को…

तेरी याद आती हैं साली,
जब भी दिखती है मुझे मेरी घरवाली,
याद दिलाती है तेरे होंठो की,
उसके होठों की लाली…

ऐ जीजा ! इलाज तेरे इस दर्द का,
मेरे तो क्या पास किसी के नहीं,
यूँ तो समाया है नस नस में,
दवा इसकी उस खुदा के पास भी नही…

तुम्हारी दीदी को हमने दूर किया,
तुम्हें प्यार करने पर मजबूर किया,
तुमसे मिलने पर दिल धड़कता है,
दिल में प्यार का शोला भड़कता है…

हर किसी का दिल धड़कता हैं,
देख कर साली को,
दिल की तमन्ना होती हैं,
काश ये होती दूसरी घरवाली…

Jija Sali Shayari

मेरी अर्थी पर साली जी डाल देना,
अपना लाल दुपट्टा कफ़न समझ कर,
आराम से सो सकूंगा कब्र में,
हाय ! हाथ में तेरा दामन समझ कर…

बिना देखे तुम्हे रहा नही जाएगा,
ये दर्द गम सहा नही जाएगा,
तुम अब जाओगे ही नही जीजाजी,
तो दर्द किसी से कहा नही जाएगा…

दिल भी क्या कोई चीज है देने की,
इसे हम दे बैठे जीजाजी को,
कर दिया चकनाचूर दिल शीशे का,
बैठाया दिल में उन्होंने मेरी दीदी को…

खत लिखती हूँ खून से स्याही ना समझना,
आपकी सिर्फ साली हूँ ,घरवाली ना समझना…

ऐ जीजा ! इलाज तेरे इस दर्द का,
मेरे तो क्या, किसी के पास नहीं,
यूँ तो समाया हैं नस-नस में,
दवा इसकी उस खुदा के पास भी नहीं…

ऐ जीजा जी ! तुम क्यों हो कर बैठे हो नाराज,
बजाती हूँ मै साज तुम कुछ निकालों आवाज,
वीरानगी सी क्यूँ छाई है तुम्हारे चेहरे पर,
देखते नही प्यार करने का मौसम है आज…

चढ़ी हो जवानी अगर साली की,
मुश्किल हो जाती है जीजाजी की,
हकीम हो अगर कोई नाजनीना,
दर्द और मिल जाता है बीमारों को…

हाय टकरा गया साली से,
चेहरे पर बहार आ जाती है,
जब साली हाथ बढ़ाती है,
बीबी अपनी जल जाती है…

Jija Sali Shayari

Jiju: Muskurana to har ladki ki adaa hai.
Saali: Wah!
Jiju: Gaur farmaiye.
Muskarana to har ladki ki adaa hai.
Use jo mohabbat samjhe wo sabse bada GADHA hai.

खत लिखती हूँ खून से स्याही ना समझना
आपकी सिर्फ साली हूँ ,लुगाई ना समझना

Damaad umar me chhota hota hai fir bhi
Sasural mein sabhi ushe aap kar ke
bulaate hai aur uske Sambodhan mein
Ji jaroor lagate hai..
Kyonki Hmaare desh mein SAHIDO ka
naam Samman se lene ki parampra hai.

मेरी अर्थी पर साली जी डाल देना ,
अपना लाल दुपट्टा कफ़न समझ कर
आराम से सो सकूंगा कब्र में
हाय हाथ में तेरा दमन समझ कर ….
हुस्न तो दिया ऐ खुदा तुमने
हाय इस काली जुल्फों वाली को
काश तुमने दिया होता दिल भी
हमारी इस प्यारी साली को |

ऐ जीजा ,इलाज तेरे इस दर्द का
मेरे तो क्या ,किसी के पास नहीं
यूँ तो समाया हैं नस-नस में
दवा इसकी उस खुदा के पास भी नहीं …..
चढ़ी हो जवानी अगर साली पर
मुश्किलें हो जाती हैं जीजाओं को
हकीम हो अगर कोई नाजनीना
दर्द और मिल जाता है बीमारों को |

तेरा मतवाला हुस्न देख,दिल मेरा धड़कता है साली
फिर भी ये तमन्ना है बाकि, बनजा मेरी दूसरी घरवाली

साली ईज़ ऑल्वेज़ अ ब्यूटी, वाइफ ईज़ ऑल्वेज़ अ ड्यूटी
साली ईज़ ऑल्वेज़ अ पॅशन, वाइफ ईज़ ऑल्वेज़ अ टेंसन
साली ईज़ ऑल्वेज़ अ पटाखा, वाइफ ईज़ ऑल्वेज़ अ शयप्पा
साली ईज़ ऑल्वेज़ अ कूल, वाइफ ईज़ ऑल्वेज़ अ फूल

Umar kya kahu kaafi nadan hai meri,
Has ke milna pehchan hai meri,
Apka Dil zakhmo se bhara ho to mujhe fone kiziye,
DILO ko Repair karne ki dukaan hai meri

बजती नहीं है एक हाथ से ताली,
अच्छी लगती नहीं मुझे घरवाली,
गोरे गालों पे रंग लगाने को,
अच्छी लगती है तो बस साली

Holi me jab tak huddang na ho
Bhabhi aur dewar ka sang na ho
Choti saali se chhina jhapti na no
Thodi si usse liptaa lipti na ho
Tab tak holi kya holi hain
Varnaa rang thiotholi hain
Happy Holi

HOLI MEIN AGAR HUDDDANG NAA HO,
PYAR SAALI SE CHHEENA JHAPTI NA HO,
ZARA ZARA BACHNE KA BAHAAN NA HO,
TAB TAK HOLI MEIN MAZA NAHIN…
JAB TAK JIJA SAALI MEIN THITHOLI NA HO!!
BURA NA MAANO HOLI HAI

Saali: Aap is ghar ke damaad hai.
Hum aapk liye aag pe chal sakte hai.
Jija: Kya tum mera bill bhar ke aa sakti ho?
Saali: Kya?
Dhoop dekhi hai kitni tez hai

Damaad umar me chhota hota hai fir bhi
Sasural mein sabhi ushe aap kar ke
bulaate hai aur uske Sambodhan mein
Ji jaroor lagate hai..
Kyonki Hmaare desh mein SAHIDO ka
naam Samman se lene ki parampra hai

HUM AAPKE DIL MEIN REHTE HAIN,
HAR DARD KO BADE PYAR SE SEHTE HAIN,
KOI HUM SE PEHLE WISH NAA KAR DE AAPKO,
ISSI LIYE EK DIN PEHLE HI HAPPY NEW YEAR
WISH KARTE HAIN

bajatee nahin hai ek haath se taalee,
achchha lagatee nahin mujhe gharavaalee,
gore gaalon par rang lagaane ke lie,
achchha lagatee hai to bas saalee

एक बात धयान रक्षा साली होनी छहिये मिस,
नाहिन तो अगार सपने में भी यूस्को टून कर लीया चुंबन,
सर पार पदे बेला बेयसाबा, सर अपन नुवेएवेगा,
जब जानेगी बीवी, होली पे रक्षाबंधन याद आगा भी

Saali is Beauty,
Wife is duty,
Saali is passion,
Wife is tension,
Saali is patakha,
Wife is sayapa,
Saali is cool,
Wife is fool,
Saali is tuty-fruity,
Wife is qismat futi,
Saali is fresh cake,
Wife is earth quake

एक लड़के की नयी नयी शादी हुई,
पहली बार ससुराल गया,
साली से बोला – आपके गांव में सबसे मशहूर चीज़ क्या है?
साली – एक ही चीज़ मशहूर थी वो भी आप ले गए

जीजा साली से…
मैं भी ना बहुत बड़ा मुर्ख था जो तुम्हारी बहन से शादी की,
साली : हाँ और अंधे भी थे, क्यूंकि बगल में खड़ी मैं नहीं दिखी आपकों…

बस पूंछो मत यारों आजकल की सालियाँ भी इतनी चालक होती जा रही है,
कल गलती से मैंने ऐसे ही मजाक में कह दिया कि, साली तो आधी घरवाली होती है….
अब साली भी आधी सैलेरी मांग रही है….

जीजा तुम गर्ल्स इतनी ब्यूटीफुल क्यों हो — साली क्यूंकि भगवान् ने हमें अपने हाथों से बनाया है
जीजा ले, बोल तो ऐसे रही है जैसे हमें तो मजदूरों को ठेके पर दिया था….

साली अपने जीज‍ा से – जीजू-जीजू आपने सोचा है कि लोफर और ऑफर में क्या अंतर है?
जीजाजी – देखो साली साहिबा, अगर आप मुझे प्यार करने को बोलोगे तो वह ऑफर कहलाएगा और मैं कहूं तो आप मुझे ‘लोफर’ कहोगी….
कुछ और जीजा साली जोक्स

साली और जीजा जी की बाते ही निराली….
साली जीजा जी 4 साल में 5 बच्चे हो गये, ये क्या कर रहे हो आप ? जीजा जी साली जी
आपने ही तो बोला था मेरी बहन को कभी खाली पेट नहीं रखना, देख लो एक महीने भी काली पेट नहीं रखा….

लल्लू की बीवी राधा आधी रात को सुनो जी, भूकंप आ रहा है! सारा घर गिर रहा है! लल्लू : सो जा कांति ,
तू फिक्र मत कर, घर गिरेगा तो मकान मालिक का, हम तो किरायेदार हैं! राधा बेहोश..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *