Categories
Uncategorized

Cg Very Funny Jokes

Cg Very Funny Jokes! Hello friends, I have collected some new Cg Very Funny Jokes. So check the latest Cg Very Funny Jokes and share it with your all lovely friends.

Cg Very Funny Jokes

सर्वे……
छत्तीसगढ़ के लोगों से प्रश्न किया गया
यहाँ के लोग हेलमेट पहनना क्यों पसंद नहीं करते???
85% लोगों का जवाब
गुटका थूके म परसानी

उनको न आया हमारी वफ़ा पे यक़ीन,
हमने कहा हम मर जायेंगे तेरे बिन,
उन्होंने कहा मर जाओ …
फेर का…
मोला ना एकदम से बेज्जती टाईप लागिस यार ।।।

😌समारू – ते काबर उदास हस यार ?
तोर तो काली बिहाव हें?
मंगलू-का बताव यार
ससुराल के मन बोले हें। बराती कम लाबे ,कर के
समझ नई आत हे मोर बाबू मोला लेगही की नई 😝😜😝😛

ददा अपन टूरा ल किहीस ….
बेटा टुरी खोजे बर जाना है..
हाथ ल लमाना है ……
हाइ फाइ गोठियाना है ……
टुरा किहिस …. कइसे हाइ फाई ददा ?
ददा – अबे एक ल दु बताना है ।
होवइया ससुर पुछिस टुरा ल मैट्रीक पढ़े हस ।
टुरा – नही MA
प्राइवेट मे नौकरी करथस
टुरा – सरकारी मे
5000 तंखा पाथस
टुरा – नही 25000
ततके मे टुरा ल आगे खांसी
खासी हे का रे
टुरा – नही TB हे
काबर हाइफाइ गोठीयाना हे ।

छत्तीसगढ़ पुलिस हवलदार. :(पेन हाथ में लेकर). : तोर, चालान बनाये पड़ही। what is ur name दाऊ?
फॉरेनर : Wilhelm Voncorgrinzksy Schwerpavacovitz…
हवलदार. : ए दारी छोड़त हूँ लेकिन अगली बार संभल के चलबे। चल निकल ले अब !!!और सुन हो सके तो साले अपन नाम ला बदल लेबे!!! 😂😂😂

बाबा रामदेव बेहोश होते होते बचे जब
एक छत्तीसगढिया ने पूछा :
“काय महाराज, पतंजलि के गुटखा कब लाँन्च होही “…😆😂😂😆😆😆

एक छत्तीसगढिया ने चाइना में चाय की दुकान खोली
नाम रखा : “छत्तीसगढिया टी स्टाल”
दुकान ज्यादा दिनों तक नहीं चली तो
किसी ने सलाह दी कि अगर चाइना में तरक्की करनी है तो
नाम भी चाइनीज रखो
अब उसकी दुकान अच्छी चल रही है क्योंकि
दुकान का नाम रखा है : “ताते तात चा फू फू के पी” 

समारू :- यार मोर मेडम कहिथे कि गाय के दुध पिये ले दिमाग तेज होथे.
बुधारू :- फेकथे बे..
उसने होतिस त हमर बछरु ह इंजिनियर नि बन जतिस .
😝😝😝😝

छत्तीसगढ़ी बॉयफ्रेंड अपनी गर्लफ्रेंड से
बॉयफ्रेंड:कइसे काली तोर जन्मदिन हरे ओ
गर्लफ्रेंड:हाओ
बॉयफ्रेंड:बोल तोला का चाहि
गर्लफ्रेंड:मोला एक ठन मोबाइल चाहिे जेमे पाछु कोती आधा चाबे वाले सेवफल के फोटु रहिथे।।
बॉयफ्रेंड* उहिंचेच बेहोंश 🙃

एक लडका मर्सीडीस कार मे कॉलेज आया ।
सुट-बुट पहेनकर ,
गले मे 40 तोला सोने की चेन ।
हाथ मे सोने का महेंगा लुझ,
हिरो जैसी पर्सनालिटी,
साथ मे 3 bodyguard..
ओर जेब मे 4g i phone6
पर जब उसके पास 1 call आया तो सब बेहोश गये
क्योंकि उसकी रिंगटोन थी
“भाजी टोरे ल आबे न हमर गॉंव के ओन्हारी म।
😳😀😀😀😭😕😀😜
आखिर बंदा है तो छत्तीशगढ़ का।

पति: थोड़कन मैच वाले चैनल लगा तो ।
पत्नी: नई लगांव।
पति:😠😠😠 देख लूंहु।
पत्नी: 😡😡😡 का देख लेबे??
पति: 😰😰😰एही चैनल ल जेनला तैं देखत हस😸😸😸😸
😢😢😢😢😢😢😢😢

पप्पू समंदर किनारे लेटा धूप ले रहा था.😘😘😘
एक अमेरिकन :- आर यू रिलैक्सिंग ?😎😎😎
पप्पू :- नो डियर आई एम पप्पू
थोड़ी देर बाद एक दूसरा अमेरिकन
वहां से गुजरा :- आर यू रिलैक्सिंग ?😎😎😎
पप्पू चिल्लाकर :- कमीने, आई एम पप्पू !😠😠😠
फिर खिजलाकर पप्पू वहां से उठकर
दूसरी तरफ चला गया.
जहाँ एक अमेरिकन
सुंदरी लेटी थी
पप्पू ने उससे पूछा :- आर यू रिलैक्सिंग ?
अमेरिकन सुंदरी :- यस, आई एम
रिलैक्सिंग.😚😚😚😚
पप्पू उसे एक तमाचा मार के बोला –
साली ………….ते ऐती सुते हस ओती तोर घर वाले मन तोला खोजत हे ।😡😡😡😡
😆😆😆😆😂😂😂😂

एक छत्तीसगढ़ के लड़का शादी के लिए लड़की देखने गया।
लड़की के पिता :- बेटा तैय का काम बुता करथस ..?
लड़का :- I am Director of Goat research and development institute
लड़की के पिता :- 🤔 बहुत बड़े नौकरी होही, छत्तीसगढ़ी म समझाबे का बेटा..?
लड़का धीरे अावाज में :- मै छेरी चराथव ग।
😇लड़की के पिता अभी भी जिला अस्पताल में भर्ती है और होश आने की कोई संभावना नहीं दिख रहा है😇

बस मे काॅलेज की लड़कि मन के चढे से बस भर गये
अउ पप्पू नीचे रह गय…
कंडक्टर :- नो मोर…… नो मोर….
पप्पू :- साले मोरनी – मोरनी मन ला चढा लीस,
अउ हम आयने त नो मोर !
😂 😂 😂 😂 😂 😂

किसी ने सच ही कहा है👌
🙏”मेहनत करो तो
नींद अच्छी आती है!!👌
👆🏻👆🏻👆🏻👆🏻👆🏻👆🏻👆🏻
👇🏻👇🏻👇🏻👇🏻👇🏻👇🏻👇🏻
मैंने भी कल कूलर मे २ बाल्टी पानी डाला और सो गया😉😉
सीधा बिहिनिया कन नींद खुलिस साले ला😝😜😝😜

यहां भी होगा वहा भी होगा* ।😕😎😎
अब तो सारे जहा में होगा ।😎😎
क्या 😍😍😍😍😛😛😛
माड़ी भर चिखला।😝😝😜😜😝

बाप:- एक जमाना रहिस जब पाँच रुपिया धर के बाजर जावत रहेन, अऊ बजार ले तेल साग-भाजी साबून-सोडा जमो चीज ले आवत रहेन।
बेटा:- बाबु अब जमाना बदल गे हवय, जमो दुकान म सीसी टीबी केमरा लग गे हवय

1.टुरा-तोर मया म बइहा होके खारेखार किंदरत हौं…….
तोर मया म बइहा होके खारेखार किंदरत हौं…….
थोरको तोला मया नई लागय घाम पियास म तड़पत हौं…
टुरी-मरजा रोगहा मोर मया के नाव लेके लासा खोजत हस, का मैं तोर बर पानी पहुंचाए ल आंवव 😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

2.डोकरा-(डोकरी ल देख के)-तोर दिल म मोला बसा ले नई
तो मोर दुनिया लूट जाहि…….
तोर दिल म मोला बसा ले नई तो मोर दुनिया लूट जाहि…..
डोकरी-मोर चार चार झन बेटा हे सुन परहि त तोर पागी घलो छूट जाहि 😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

3.टुरा- फूल सहीं तोर कोमल बदन चेहरा तोर चाँद के……..
फूल सहीं तोर कोमल बदन चेहरा तोर चाँद के……..
टुरी-(सरमा के)सहीं म..
टुरा-फूल सहीं तोर कोमल बदन चेहरा तोर चाँद के ,तारा जइसे चमकत हे जुवां तोर बाल के😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

4.टुरा-मया के दु ठन कुरिया बसाबो सुख म दुनो जिनगी बिताबो…..
मया के दु ठन कुरिया बसाबो सुख म दुनों जिनगी बिताबो…….
छत्तीसगढ़िया टुरी- तो ददा ह कभू मया के कुरिया बनाय हे ,कुरिया बनाय बर लकड़ी फाटा लगथे,😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

टुरा- नई लावंव मोटर संगी नई लावंव बराती तोला लेके भाग जाहूं मैं ह आधा राती…
टुरी- का कहे एक बार अउ कही तो?
टुरा- नई लावंव मोटर संगी नई लावंव बाराती तोला लेके भाग जाहूं मैं ह आधा राती…..
टुरी- साफ साफ बोल न खर्चा करे के अवकात नई हे 😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

  1. गोलू(भोलू से)- मैं लाइट दिखावत हौं तैं ओखर अंजोर म बादर म जा।
    भोलू- मोला पगला समझथच का ,लाईट बन्द कर देबे त मैं तो रस्ता म लटक जाहूं।😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊
  2. समारू( बुधारू से)- आजकल तोर भइँसी अड़बड़ मोटावत हे, का खवाथच हरियर चारा के दिन तको नोहय।
    बुधारू- हौ जी काबर के न मैं अपन भइंस के आँखि म हरियर चसमा ल बांध दे हंवा। कतको सुख्खा चारा ल तको हरियर चारा समझथे।😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

8.सास-बहू जातो भइसी ल भूसा खवा दे।
शहरिया बहु-(कोटना मेर ले लहुट के)दाई अभी भइसी ह बरस करत हे बाद म भूसा डारहूँ
सास-तैं कइसे जाने भइसी बरस करत हे।
बहु-काबर के भइसी के मुह म अभी झाग हे😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

9.गोलू-बाबू मैं कइसे होयहौं ग?
दद- तोर दाई से सादी करे हौं त होय हस बेटा।
गोलू-(रोवत रोवत ) मोर दाई ले काबर सादी करे महुँ तोर दाई ले सादी करहुं😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

10.समारू- डॉक्टर साहब देख तो मोर गोड़ ह कइसे नीला पड़ गे हे।
झोला छाप डॉक्टर-(जांच करके) समारू तोर बीमारी तो समझ म नई आवत ए फेर खतरनाक बीमारी ए गोड़ ल माड़ी तक काटे बर पड़ही।
समारू-(उदास होके) ठीक हे डॉक्टर साहब।
(माड़ी तक काटे के 5-6 दिन बाद)
समारू-डॉक्टर साहब ए तो ठीक ही नई होवत ए ।
डॉक्टर-(देखे के बाद)तोर बीमारी तो अउ बाढ़ गे अब माड़ी के कुछ ऊपर ल काटे ल पड़ही।
समारू- ठीक हे डॉक्टर साहब काट दे।
(फेर 5-6 दिन बाद)
समारू-डॉक्टर साहब ए तो ठीक ही नई होवत ए आबो नीला नीला दिखत हे।
झोला छाप डॉक्टर-(जांच करे के बाद ) अब जाके तोर बीमारी समझ म आइस हे समारू तोर नवा जीन्स पेंट ह कलर छोड़त हे😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

11.गोलू-(अपन दद के सादी के वीडियो देखत रहय) दद मोरो सादी म चीयर गर्ल नचवाबे न।
दद-बेटा पैसा के कमी हे रे नई नचवावन बेटा।
गोलू- (गुस्सा म) त अपन सादी म काबर नचवावत रहे।
दद-(वीडियो ल देख के) हरामखो ए मन चीयर गर्ल नोहय तोर फूफू मन ए 😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

12.टुरा- (फोन म अपन मयारू से) तोला मैं मया करेंव अबला समझ के…
तोला मैं मया करेंव अबला समझ के………।
तोर दद मेर पिटवाये मोला तबला समझ के😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

13.टुरा-(गुस्सा म अपन मयारू से) जा जा ए मेर ले रेंग मोला देखाय बर मटक मटक के रेंगथच। मोर कस तोला खोजे म मया करइया नई मिलय।
टुरी-बामीं नहीं टेंगना इही हमर रेंगना।
काड़ी नहीं मूसर तैं नहीं त दूसर।।
टुरा देखत रहिगे😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

14.बुधारू- बाबू महुँ पड़रु म चड़ीहौं ग…….।
बाबू महुँ पड़रु म चड़ीहौं ग…….|
(अइसने काहत काहत रोय लगिस)
दद-(गुस्सा म) राह न रे ,भइस ल जनमन देबे अभी भइसी जनमें तक नई हे एला पड़रु चढ़ना हे😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

15.बिसाहिन-(सब संगी मन मेर आ के खुशी खुशी ) आज हमर घर लईका होइस हे चार दिन बाद छट्ठी मनाबो……..।
भोलू- काखर लईका होइस हे ओ रोवत तको नई ए।
का तोर दाई के लईका होइस हे?
बिसाहिन-नहीं।
भोलू-त तोर दीदी के?
बिसाहिन-नहीं।
भोलू-त तोर भउजी के लईका होइस होही?
बिसाहिन-नहीं रे।
भोलू-त काखर होइस हे रोवत तको नई हे?
बिसाहिन-हमर भइसी के😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

16.समारू के रिसेप्शन पार्टी म……..
गोलू-बधाई हो दोस्त देर से लाए फेर स्कार्पियो ही लाए😊😊
समारू-धन्यवाद दोस्त,आखिर दोस्त काखर आंव तुंहर नुना ल नई लाए हस का……..
समारू के बाई- बेहोस😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊
⇰समारू के दद-कहाँ हस बेटा।
समारू- पढ़त हौं दद।
समारू के दद- त तरिया तीर बइठ के कोन ए गुड़ाखु घसत हे रे।
हरामखोर चल घर भाग पेपर के समय हे ।अउ हां डबिया ल मोला देवत जा😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

17.पहाड़ के तीर म हे बड़े बड़े खाई…….।
पहाड़ के तीर म हे बड़े बड़े खाई…………।
नाम……………………..नाम जलेबी बाई😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

18.जिंदगी सरल नई हे दोस्त,पग पग म लगथे ठोकर।
जिंदगी सरल नई हे दोस्त,पग पग म लगथे ठोकर।
ठोकर लग गे त फेर उठ ले अउ जोर से चिल्ला अरे मोला कोन ढकेलिस हे😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

19.छत्तीसगढ़िया टुरा ह फटफटी म जात रहै रसता म टुरी ल देखत देखत गिर गे।
टुरी-लगिस थोड़े हे
छत्तीसगढ़िया टुरा-नही रे पगली हमन फटफटी ले अइसने उतरथन😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

20.समारू बुधारू ल- का साग खाय हस भाई?
बुधारू-मछरी साग तो खाय हौं भाई।
बुधारू-समारू तहूँ खाथच का भाई?
समारू-नही नही बिल्कुल नही।
फेर कभूकभार झोर ल चीख लेथंव😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

21.एक दिन समारू शादी करे बर लड़की देखे ल गिस।
लड़की के दद-तोर म कुच्छु खासियत हे?
समारू-खासियत तो बहुत हे ।
लड़की के दद-एकात खासियत ल बताते बाबू।
समारू- फटफटी म चलत चलत बीड़ी जला लेथों अउ बियर के ढक्कन ल दांत म खोल देथौं😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

22.समारू बुधारू ल- बुधारू का बात ए तुंहर घर बहुत फोटाका फूटत रहिस?
बुधारू- हां भाई हमर घर लईका होइस हे न।
समारू- काखर लईका जी, का तोर दाई के लईका होइस हे?
बुधारू-नही बे।
समारू- त तोर भउजी के?
बुधारू-नही बे।
समारू- त तोर बहिनी के?
बुधारू – नही यार।
समारू-त ठीक से बताबे की ओइसने नही नही कहत रही बे।
बुधारू-हमर भइसी के लईका होइस हे भाई😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

23.समारू अपन दद संग जंगल गए रहय।अचानक एक ठन बाघ ह आघू म आ गे।
समारू-बाप….. बाप …..बाप …बाप….।
(समारू के दद का होगे कहिके तीर म आके देखथे अउ उहू ह बाघ में हबड़ जाथे ।)
समारू के दद-तोर संग म महुँ ल फंसा डारे रे बाप बाप के बजाय बाघ बाघ नई बोल सकत रहे बे।
समारू-बाघ….बाघ…ही बोलत रहेव दद फेर डर के मारे बाघ के जगा बाप …..बाप……निकल गिस हे😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

24.हमर गॉव म तरिया ल मछरी मारे बर मतावत रहैं एक झन ह बड़ेक जबर भुंडा मछरी ल पागे।अउ भुंडा मछरी मिलहि कहिके सब जोर से पानी ल मताईन।तान्तु नाव के ह बड़ेक जबर बामी ल पागे फेर-
(तान्तु, पंजू नाव के आदमी ल)
तान्तु-दउड़ पंजू…..दउड़ पंजू ……बड़का जबर बामी पकड़े हौं।
पंजू-(तीर म आके)ठीक से पकड़ाय हे रे?
तान्तु-हौ।
पंजू-त ले पानी ले बाहर निकाल।
तान्तु-बचाव भाई…..बचाव भाई………।
पंजू-का होगे रे?
तान्तु-बामी के भोरहा म ढोढ़वा सांप ल पकड़ डरे रहेव भाई😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

25.समारू नहाय ल जात रहय त देखथे एक घर म डोकरा ह डोकरी ल धुक धुक के खवात रहय।फेर नहाके लहूटीस त डोकरी ह डोकरा ल धुक धुक के खवात रहय।
समारू-बब भारी तुंहर मया ग डोकरी दाई खात रहिस त तैं धुकत रहे अउ तैं खात रहे त डोकरी दाई धुकत रहिस हे।
डोकरा-का मया बेटा ,दुनों के दांत झर गेहे एक सेट दांत लिए हौं ओ खाथे त मैं ठलहा ,मैं खाथों त ओ ठलहा त का करी एक दूसर ल देखत रहीथन कब दांत ल दै त मैं खांव,,,😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

  1. एक गॉव के टुरा ह नौकरी पागे अउ शहर के टुरी ल शादी कर लिस।टुरा के एक छोटे भाई रहय। इमन सब दतवन छाप रहैं।कोलगेट के बारे मे नई जानत रहैं।शादी के बिहान भरओखर बाई ह कोलगेट करत रहै-
    देवर-भउजी काए महू ल देना।
    भउजी-लो जी।
    (देवर चीख के देखिस मीठा लगिस त खा गे।)
    देवर-अउ देना।
    भउजी-बार बार नई दूंगी।
    देवर-भैया देख तो अउ नई देवत ए।
    भईया-काए जी देखा
    (खाके देखिस अउ छोटे भाई ह जादा जिद्द करिस त एक झापड़ लगा दिस)
    छोटे भाई- (रोवत रोवत )काबर मारे भईया?
    भईया-एला अइसने थोड़े खाथें रे, रोटी म खाथें 😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

27.रामु- अदि हलात तोर खिलाफ हो जाहि अउ तोला चिखचिख के चिल्लाहि त तैंं का करबे?
रामु-चिल्लान देना सारे ल जान न पहिचान चिल्लाहि तबो हमन ल का करना।
रामु-बेहोश😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

28.गुरु जी-(बच्चों से) पहाड़ के नक्शा बनावा अउ ओला रंगना तको हे।
(कुछ देर बाद दिखाईन)
गुरु जी- रामु के म रंग सुंदर हे, श्यामू के तको अच्छा हे।
समारू-सर मोरो बन गे।
गुरुजी-(कॉपी देख के) ए काए रे !सब के कतका सुंदर सुंदर रंगबिरंगा दिखत हे,तोर दद ह कभू अइसने पहाड़ देखे हे।
समारू-हौ गुरुजी।
गुरुजी-जुबान लड़ाथस बे (दु-तीन राहपट मारिस)
समारू-( रोवत रोवत)हिमालय पहाड़ बनाय रेहेंव।
गुरुजी😢😢😢
😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

29.टुरा- तै बनजा मोर घरवाली ,तोर भाई मोर सारा…
तैं बनजा मोर घरवाली ,तोर भाई मोर सारा…..
टुरी-तुंहर पारा आए हौं त लाइन मारत हस,दम हे त आबे हमर पारा।
टुरा-मजाक करत रहेंव बहिनी😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

30.बजरहा-ऐसे बानी बोलिए कि मन का आपा खोय…..
ऐसे बानी बोलिए कि मन का आपा खोय…….
ऐसे बानी बोलिए कि मन का आपा खोय……
समारू-कइसे बानी जल्दी बता नही त मोर आपा खो जाहि😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

31.गुरु जी के जनगणना म ड्यूटी लगे रहय ।गुरुजी बिहनिया कन एक डोकरी के घर पहुंचगे।
गुरुजी-गुड मॉर्निंग ।
डोकरी-तोरे दाई बहिनी मन हो जाय न गुड मॉर्निंग।
गुरुजी-पाँव परत हौं कहे हौं दाई।
डोकरी-अच्छा! जियत रह बेटा।
गुरुजी-जनगणना करे ल आए हौं दाई।
डोकरी-(गुस्साके) तोरे कसन कई झन रोगहा मन लिख लिख के कई बार लेगे आज तक कुच्छु नई मिलीच।रोगहा मन ल चप्पले चप्पल लगातेेंव।
गुरुजी भागते भागिच😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

32.मनेजर-मालिक-मालकिन ए साल एक करोड़ के फायदा होइस हे।अगले साल दो करोड़ के फायदा बढ़ाना हे।
मालकिन-हमन ल तोर ऊपर पूरा भरोसा हे काबर के तैं हमर एड्सवायरस आच न।
मनेजर-☺️☺️☺️
मालिक-एडवाईजर जी।
मालकिन-हां हां उहि😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

33.मैडम-भोलू एक प्रश्न पुछौं पढ़ के आए हस?
भोलू-पुछ न मेडम, बेझिझक पुछ।
मैडम-भारत म सबसे जादा पानी कहाँ गिरथे?
भोलू-भुइँया म😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

34.गोलू- भोलू तुंहर घर काय फुसरत रहिस यार?
भोलू-हमर घर म सांप पाले हन न…….
गोलू-चल बे फेंकत हस।
भोलू-नही बे। हम हमेशा खतरा से खेलथन, तुंहर कस थोरे बे डरपोकना।
गोलू-अच्छा!तैं जानथच बे तुंहर सांप ल पहिले हमन पाले रहेन अब बिख कम होगे त तुंहर घर म दे देेे हवन😃😃😃😃😁😁😁😁😁😀😀😁😁😁😀😁😁😁

35.गुरुजी-14 फरवरी के दिन कोन से दिवस मनाय जाथे?
राजू-नई पता सर। तहीं बता देना।
गुरुजी-सोंच के बतावव।
राजू-वेलेंटाइन डे सर।
गुरुजी-ओखर अलावा तोला कुच्छु नई सुझय बे। ए दिन मातृ पितृ दिवस मनाय जाथे😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

36.टुरा-तोर मया म मैं मोहाके, गेएंव तोर पारा……
तोर मया म मैं मोहाके, गेएंव तोर पारा,
जोशे जोश म बोल परेंव तोर भाई ल मैं सारा।
टुरी-वाव! मोर दीवाना ,फेर का होइस हे?
टुरा-फेर का! दउड़ा दउड़ा के तोर दद ह मारिस हे😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊☺️

37.(टेटकू अपन मयारू के हाथ देखाय बर साधुबब मेर गिस)
साधुबब-हांथ देखे के पांच सौ लेथों।
टेटकू-ठीक हे बब मोर मयारू के हाथ देख के भविष्य बतादे ।
(टेटकू के मयारू ल देख के)
बब- बेटा ए ले एक हजार रुपया फेर मैं भविष्य नई बता सकौं।
टेटकू-ए का बब !मैं ह तोला पैसा देतेंव त उल्टा तैं ह मोला पैसा देतहस
बब-ओ काये न बेटा ,ओ तो रुमाल अतका बड़ कपड़ा पहिने हे मोरे भविष्य अंधियार लागे लगिस😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

  1. चिंटू-आज मोर बघवा ह चार सौ मीटर के दउड़ जीतिस हे।
    मिंटू-भईया ।घोड़ा दउड़ सुनें रेहेंव,ये बघवा दउड़ कबले होय लगिस
    चिंटू -मोर बेटा ल बघवा कहे रहेव भाई
    मिंटू – त शेरनी कहाँ हे 😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

39.ससुर-दमांद कुछ पीथच खाथच।
दमांद-हौ पानी पीथौंव अउ भात खाथौं।
ससुर -कुछ चलथे ग।
दमांद-सब चलथे।
ससुर-मोर कहे के बतलब हे मुरगा, दारू चलथे।
दमांद-ओ ह कइसे चलहि जी मरे मुरगा कभू चलथे।
ससुर-(झल्लाके) अरे मुरगा खाथस अउ दारू पीथस?
दमांद-(लजाके)मोर तो नई चलय फेर तुुंहर मन होही त संग म थोरकन ले लेहुँ😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

40.गुरुजी-बेटा समारू तैं बता,हांथी ह कुंवा म गिर जाहि त कइसे निकलही?
समारू-गुरुजी,हांथी ह नहाखोर के निकलही😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

41.बुधारू-भैंसी ह तोर कोती दउड़त आहि त तैं का करबे?
समारू-मैं का करहुं, जेन करही भैंसी हर ही करही😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

42.गुरुजी-‘काल करे सो आज कर ,आज करे सो अब’ कोन कहे रहिस हे?
बुधारू-गुरुजी काली तो तहीं कहे रहे ,भुलागे।हमन भुला जथन त मारथच😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

43.गुरुजी-तुमन घर से सीधा स्कूल आए करौ..
बुधारू-गुरुजी जी मैं कइसे सीधा आहूं ,स्कूल आए बर पीपर पेड़ मेर ले मुड़े ल परथे😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

  1. गुरुजी- बुधारू बता 1869 म काय होए रहिस हे?
    बुधारू-नई पता गुरुजी।
    गुरुजी-महात्मा गांधी जनम ले रहिस हे।
    गुरुजी-अब दूसर सवाल के जवाब दे।1873 म काय हो रहिस हे?
    बुधारू-गुरुजी महात्मा गांधी चार साल के होगे रहिस हे😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

45.संगीत गुरु-संगीत अइसे चीज ए जेखर ले सब बीमारी दूर हो जथे
चेला-गुरु पेट दरद बर कोन से संगीत लौं😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊

46.चीकू-तूफान आ गे, तूफान आ गे..
बुद्धू-भागव -भागव ,सब भागव तूफान आवत हे
कक-मौसम तो ठीक हे रे काहाँ तूफान आवत हे
बुद्धू-चीकू कहिस हे कक
कक-कइसे चीकू मौसम तो ठीक हे
चीकू- आवत हे न कक ,हमर टी वी म 😉😉😉😉😉😉😉😉😉😉😉😉😉😉😉😉😉😉😉😉😉😉😉

47.महेंद्र बाहुबली-ए बुधियारिन ह अपन बेटी ल का खवाथे रे
कटप्पा-का बात ए महराज पूछत हस ,पसन्द आगे का..
महेंद्र बाहुबली-नही कटप्पा, भैंसी कस मोटावत हे😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆

48.टुरा-आना दुनों झन भाग चली,दिल्ली बम्बई..
टुरी-हम नई जान उहां जा के का करबो..
टुरा-घुमबो अउ मजा करबो
टुरी-पइसा का तोर बाप दिही
टुरा- (मायूस होके) बाप दद ल झन उदक न पगली, पइसा मैं धरे हौं
टुरी-दिल्ली बम्बई जाय बर तोर मेर पइसा होगे ,मोर मोबाइल ल रिचार्ज करादे कहीथौं त पइसा नई ए कहि देथच ,चल जा ओती तोर मुह ल टार रोगहा😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆

49.समारू-बुधारू तुंहर घर के मन आजकल कमाय ल जाबे नई करैं फेर तैं ह मोबाइल म बहुत बेरा तक गुठियात रहे,बेलेन्स काहाँ ले डलवाथौ..
बुधारू-फिरि के मोबाइल संगी ,दु रुपया किलो चाउंर खाथों।
कमाथौ कोनो मेर एको रुपया त ,शाम के पउआ मार के आथों😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆

50.सब लईका मैदान म खेलत रहैं। बुद्धू थोरकन तोतरावय ओ ह अचानक साँप देख डारिस
बुद्धू-थाफ हे थाफ हे भादो भादो…….
नट्टू-साफ हे तबे तो खेलत हन
बुद्धू-नही थाफ हे थाफ …..
(अचानक नट्टू के तको नजर पड़ गे)
नट्टू-बुद्धू साँप हे कहिके नई बताते अभी मरवा डरे रहे
बुद्धू-तोनों थुना त ,मैं तब थे तहत थौं ,थाफ हे थाफ😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆😆


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *